World No Tobacco Day 2020 : धूम्रपान का करें आज से त्याग, वरना इन 5 बीमारियों के हो जाएंगे शिकार

0
274
5 Serious Diseases by Smoking
5 Serious Diseases by Smoking

हर साल 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस (World No Tobacco Day 2020) मनाया जाता है। इस दिवस मनाने का उद्देश्य लोगों में तंबाकू से होने वाली गंभीर बीमारियों के बारे में अवगत कराना है। इस दिन विश्वभर में कई अभियान और कार्यक्रम किए जाते हैं, जिसमें लोगों को धूम्रपान से होने वाली बीमारियों के बारे में बताया जाता है। तंबाकू से शरीर को कई घातक बीमारियां हो सकती हैं। (World No Tobacco Day 2020) हर साल तंबाकू के कारण लाखों लोगों की जान जाती है। आइए इस लेख से जानते हैं कि तंबाकू के सेवन से कौन सी गंभीर बीमारियां होती है-

ये भी पढ़ें – World No Tobacco Day 2020: तंबाकू खाने से होती हैं जानलेवा बीमारियां, लत से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये नुस्खे

तंबाकू खाने से होती हैं ये गंभीर बीमारियां

कैंसर 

(World No Tobacco Day 2020) तंबाकू के सेवन से मुंह का कैंसर होता है, इस बारे में सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि तंबाकू खाने से सिर्फ मुंह का कैंसर ही नहीं होता है, बल्कि इसके सेवन से फेफड़ों का कैंसर, हड्डियों का कैंसर, सर्वाइकल कैंसर जैसे कई अन्य कैंसर होने की संभावना होती है। 

हार्ट अटैक का खतरा

हर एक इंसान के शरीर में दो तरह के कोलेस्ट्रॉल होते हैं। एक गुड कोलेस्ट्रॉल और दूसरा बैड कोलेस्ट्रॉल। हमारे शरीर में दोनों ही कोलेस्ट्रॉल की संतुलित मात्रा होती है। इस बीच जब कोई व्यक्ति सिगरेट या फिर तंबाकू का सेवन करता है, तो वह अच्छे कोलेस्ट्रॉल को शरीर से घटा देता है और बुरे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा शरीर में बढ़ा देता है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। 

ये भी पढ़ें – National Dengue Day 2020 : डेंगू का मच्छर होता है औरों से अलग, काटने के कई दिनों तक नहीं दिखते इसके लक्षण

सूंघने और स्वाद चखने की शक्ति खत्म

धूम्रपान का अधिक सेवन करने वाले व्यक्तियों के अंदर स्वाद चखने और सूंघने की क्षमता धीरे-धीरे खत्म हो जाती है। तंबाकू के सेवन से दिमाग की वे ग्रंथि प्रभावित होती है, जो सूंघने और स्वाद से जुड़ी होती है। कई ऐसे व्यक्ति होते हैं, जिन्हें तंबाकू के सेवन के बाद भूख नहीं लगता है। इस कारण तंबाकू का सेवन करने वाले व्यक्ति बहुत ही कमजोर नजर आते हैं। इनका शरीर धीरे-धीरे अंदर से खोखला हो जाता है।

बालों और स्किन से बदबू

तंबाकू के सेवन से शरीर में विषैले पदार्थ की मात्रा काफी तेजी से बढ़ती है। ये विषैले पदार्थ मल, मूत्र और पसीने के जरिए शरीर से बाहर नहीं निकल पाते हैं। इस वजह से अधिक धूम्रपान करने वालों के शरीर से गंदी बदबू आती है। 

प्रजनन क्षमता पर असर

धूम्रपान को लेकर कई शोध किए जा चुके हैं। इन रिसर्च में खुलासा हुआ है कि धूम्रपान के अधिक सेवन से प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है। इन रिसर्च के मुताबिक, धूम्रपान के अधिक सेवन से पुरुषों के स्पर्म और महिलाओं के एग की क्षमता कमजोर हो जाती है। कभी-कभी ये क्षमताएं बिल्कुल समाप्त हो जाती हैं। इसके साथ ही अगर गर्भवती महिलाओं के आसपास कोई सिगरेट पीता है, तो इसका असर बच्चे के मस्तिष्क और सेहत पर पड़ता है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here