क्या 11वें दिन कोरोना से संक्रमित व्यक्ति नहीं है दूसरों के लिए खतरा? जानें क्या है वैज्ञानिकों का दावा

Coronavirus Update in India

Coronavirus Update: कोरोनावायरस को लेकर तमाम शोध किए जा रहे हैं। हाल ही में सिंगापुर के राष्ट्रीय संक्रामक रोग केंद्र (एनसीआईडी) ने दावा किया गया है कि (Coronavirus Update) कोरोना से संक्रमित व्यक्ति 11वें दिन बाद दूसरों को संक्रमित नहीं कर सकता है। इनके शोध में दावा किया गया है कि इस बीमारी के लक्षण नजर आने के महज दो दिन तक ही मरीज दूसरों को संक्रमित कर सकता है या फिर संक्रमिक व्यक्ति से संक्रमण फैलने की संभावना होती है।

ये भी पढ़ें – कोरोनावायरस से ठीक हुए मरीजों को 30 दिनों तक नहीं करना चाहिए सेक्स

शोधकर्ताओं का दावा है कि उन्होंने यह रिसर्च 73 कोरोना से संक्रमित मरीजों पर किया है। सिंगापुर के अखबार स्ट्रेट टाइम्स के अनुसार, (Coronavirus Update) कोरोना से संक्रमित मरीजों में लक्षण दिखने के 7 दिन तक उसके शरीर से वायरस हवा और सांस से फैलने की संभावना अधिक है, लेकिन आठवें से दसवें दिन के अंदर वायरस कमजोर होने लगता है और 11वें दिन वह पूरी तरह से नष्ट हो जाती है।

इस बारे में एनसीआईडी के निदेशक लियो यी ने कहा कि संक्रमित व्यक्ति के लक्षण उभरने के 11 दिन बाद वह दूसरे के लिए खतरनाक नहीं हो सकता है। इस शोध में डॉक्टर शोक कुरुप भी शामिल थे, जो भारतीय मूल के हैं। डॉक्टर अशोक के अनुसार, इस अध्ययन के नतीजे बहुत ही सटीक हैं। इन्हें कोविड-19 से जूझ रहे मरीजों पर लागू करना सुरक्षित हो सकता है, फिर चाहे मरीज कितना भी गंभीर रूप से संक्रमित क्यों न हों।

ये भी पढ़ें – अब इस नशीले पदार्थ से बन सकता है कोविड-19 का वैक्सीन! जून के आखिरी तक इंसानों पर होगा ट्रायल

जर्मनी में हुए हैं ऐसे अन्य शोध

बता दें कि सिंगापुर के अलावा जर्मनी में भी इस तरह का रिसर्च हो चुका है। जर्मनी में हुए एक रिसर्च में बताया गया है कि कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद 7 दिनों में तो मरीज के गले और फेफड़ों में कोरोनावायरस बहुत ही तेजी से फैलता है, लेकिन आठवें दिन इसका प्रसार धीमा हो जाता है और 11वें दिन ये पूरी तरह से खत्म हो जाता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook
Twitter
YouTube
Pinterest
Instagram