चंद्र ग्रहण के दौरान गलती से भी ना करें इन चीजों का सेवन, वरना हो सकती हैं ये समस्याएं

Lunar Eclipse in India

Lunar Eclipse in India: रविवार यानि 5 जुलाई को साल का तीसरा चंद्रग्रहण होने जा रहा है। यह वास्तविक चंद्र ग्रहण ना होकर एक उपछाया चंद्र ग्रहण है। धार्मिक दृष्टि से उपछाया चंद्र ग्रहण का को अधिक महत्व नहीं दी जाती है। 5 जुलाई को लगने वाला उपछाया (Lunar Eclipse in India) चंद्र ग्रहण सुबह 8 बजकर 37 मिनट से शुरू होकर 11 बजकर 22 मिनट पर समाप्त हो जाएगा।

ये भी पढ़ें –  दिमाग में इस हॉर्मोन की कमी के कारण होता है डिप्रेशन, ऐसे मरीज उठाते हैं आत्महत्या का कदम

कहां दिखेगा चंद्रग्रहण

ये चंद्र ग्रहण  दक्षिण-पश्चिम यूरोप,  अमेरिका और अफ्रीका के कुछ हिस्से में ही दिखाई देगा। भारत में चंद्र ग्रहण नहीं दिखाई देगा। इस दौरान चंद्रमा कहीं से कटा हुआ होने की बजाय पूरे आकार में नजर आएगा। रविवार को होने वाला चंद्रग्रहण इस महीने के अंदर लगने वाला तीसरा ग्रहण हैं। इससे पहले 5 जून को चंद्र ग्रहण लगा था और 21 जून को सूर्य ग्रहण

ग्रहण का हिन्दू और वैज्ञानिक दृष्टि से काफी महत्व होता है। ग्रहण के दौरान हम जो भी कार्य करता है, उसका अलग प्रभाव पड़ता है। (Lunar Eclipse in India) ग्रहणकाल में खानपान का भी विशेष ख्याल रखना चाहिए। बहुत से लोग ग्रहण काल में कुछ भी नहीं खाते हैं, लेकिन कुछ विशेष परिस्थिति में खाना खिलाया जाता है। ऐसे में हमें आहार का विशेष ख्याल रखना चाहिए। आइए जानते हैं ग्रहण काल में किन चीजों का सेवन है वर्जित-

ये भी पढ़ें – सिर्फ 1.5 रुपए की दवा से ठीक हो रहे कोरोना मरीज, डॉक्टर्स की बढ़ीं उम्मीदें

डीप फ्राइड और मसालेदार फूड्स

मसालेदार और तेलीय भोजन खाने से शरीर का तापमान काफी बढ़ जाता है। ऐसे खाने के पचाना भी बहुत ही मुश्किल होता है। ग्रहण काल में पाचन शक्ति प्रभावित होती है। ऐसे में हमें ग्रहण के दौरान मसालेदार और फ्राइड चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे डाइजेशन की समस्या हो सकती है।

नॉन वेज से रहें दूर

पारंपरिक मान्यताओं के अनुसार नॉनवेज खाना शरीर का तापमान बढ़ा देता है, क्योंकि मांसहारी भोजन में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है। शरीर के लिए अधिक प्रोटीन डाइजेस्ट करना काफी मुश्किल हो जाता है। इस लिहाजा से जो लोग पहले से बीमार हैं, उन्हें ग्रहण के दौरान नॉनवेज चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे पाचन पर बुरा असर पड़ सकता है।

ये भी पढ़ें – टॉयलेट की सीट से फैल सकता है कोरोना वायरस, फ्लश करने से पहले बरतें ये सावधानी

खुला रखा हुआ पानी न पिएं

ग्रहण के दौरान बहुत से लोग पानी तक नहीं पीते हैं, लेकिन अगर आपको काफी प्यास लगी है और आप बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं, तो पानी पी सकते हैं। लेकिन ऐसा करने से पहले आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि जो पानी आप पी रहे हैं वो काफी देर पहले से बिना ढके हुए खुला ना रखा हो।

ग्रहण के दौरान होने वाले कॉस्मिक चेंज के कारण पानी में भी रिऐक्शन हो सकता है। इसलिए शरीर पर बुरा असर पड़ सकता है। अगर पीना ही हो तो ढंका हुआ पानी पिएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook
Twitter
YouTube
Pinterest
Instagram