महिलाओं की पर्सनालिटी में आएगा निखार, नियमित रूप से करें ये वर्कआउट

Women Workout

Women Workout: स्त्रियों के शरीर की बनावट पुरुषों की तुलना में बहुत ही अलग होती है। महिलाओं के संजने-संवरने का तरीका बहुत ही अलग होता है। (Women Workout) इसके साथ ही इनके शरीर की बनावट भी पुरुषों के मुकाबले बहुत ही अलग होती है। 

महिलाओं के पैर पुरुष के मुकाबले बहुत ही नाजुक होते हैं। इसके साथ ही इनके घुटनों की नस भी पुरुषों की तुलना में कमजोर पाई जाती है। (Women Workout) ऐसे में महिलाओं को अपने पैरों का हिस्सा मजबूत करने के लिए नियमित रूप से ये वर्कआउट करना चाहए। इससे ज्यादा से ज्यादा कैलोरी भी बर्न होती है। 

साइड लेग ऐब्डक्शन (Side Leg Abduction)

इस एक्सरसाइज को एक मैट के साइट में लेटकर किया जाता है। इसके साथ ही इसे बेंच की मदद से या फिर जिम बॉल की मदद से भी कर सकते हैं। साइड लेग ऐब्डक्शन एक्सरसाइज करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपके शरीर का वजन पैरों पर भी पड़ना चाहिए। 

ये भी पढ़ें – पीरियड्स के दर्द और मूड स्विंग्स से हैं परेशान, तो करें ये 5 बेस्‍ट वर्कआउट

काव्स रेज (Caves)

पैरों में किसी भी तरह की समस्या को दूर करने के लिए काव्स रेज एक्सरसाइज किया जाता है। इस एक्सरसाइज को करने के लिए एक ऊंचे प्लेटफॉर्म पर खड़ी हो जाएं। इसे हार्ड बनाने के लिए आप बारबेल्स या फिर डंबबेल्स भी उठा सकती हैं। इसके बाद अपने पैरों की एड़ियां ऊपर उठाएं और फिर नीचे ले जाएं। इस एक्सरसाइज को आप नियमित रूप से करें। अगर दिन में आप दिन में तीन से पांच 5 सेट रोजाना करते हैं, तो पैरों की सारी समस्या ठीक होगी। इसके साथ ही पैर मजबूत भी होंगे। यह पिंडलियों के लिए काफी अच्छा माना जाता है। 

स्क्वॉट्स एंड लंजेस (Squats and Lunges)

इस एक्सरसाइज को करने के लिए आप सबसे पहले अपने बैक को सीधा रखें। स्क्वॉट्स एंड लंजेस करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपके घुटने 90 डिग्री एंगज से ज्यादा न मुड़े हों। ऐसा होने से आपको चोट भी लग सकती है। 

ये भी पढ़ें – Work From Home से स्वास्थ पर होने लगा है बुरा असर? अपनाएं WHO के ये खास टिप्स

लंजेस करने के लिए आप सीधे नीचे की ओर झुकें। इस दौरान आपकी एड़ी ऊपर होनी चाहिए। स्क्वॉट्स एंड लंजेस को और थोड़ा हार्ड बनाने के लिए आप बेस बॉल का इस्तेमाल कर सकती हैं। स्क्वॉट्स करते अगर आपको पीठ में दर्द होता है, तो आप दीवार के सहारे एक जिम बॉल रखकर इस एक्सरसाइज को कर सकती हैं। 

ऐब्डक्टर एक्सरसाइज (Abductor Exercise)

इस एक्सरसाइज को करने के लिए रेसिस्टेंस बैंड ऐब्डक्टर और पैरों पर बांधे जा सकते हैं। इस बैंड की मदद से आपके पैरों की मांसपेशियां स्ट्रेच होती हैं। इससे पैर काफी मजबूत होते हैं। 

इसके अलावा स्विमिंग करने, साइक्लिंग, दौड़ने से भी पैर मजबूत होते हैं। इन एक्सरसाइज के पैरों की नसों में खिचाव होता है, जो पैरों के लिए बहुत ही जरूरी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook
Twitter
YouTube
Pinterest
Instagram